Market

31 जनवरी से पहले करवा लें ये काम, वरना देना पड़ेगा डबल टोल टैक्स

FASTAG KYC : आपका FASTAG KYC अधूरा है, तो यह 31 जनवरी के बाद निष्क्रिय हो जाएगा। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने सोमवार को कहा कि एक वाहन एक फास्टैग अभियान के तहत बेहतर फास्टैग अनुभव को बढ़ावा देने के लिए यह निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि जिन FASTags का KYC 31 जनवरी तक पूरा नहीं होगा, उन्हें ब्लैकलिस्ट कर दिया जाएगा या निष्क्रिय कर दिया जाएगा। एकल FASTag अभियान के लिए, NHAI ने कहा कि एक ही वाहन पर कई FASTags रखने वालों के खातों को ब्लैकलिस्ट कर दिया जाएगा। फास्टैग की केवाईसी 31 जनवरी तक अनिवार्य कर दी गई है। जिसकी अंतिम तिथि 31 जनवरी 2024 है। FASTag को निष्क्रिय करने का मतलब है जेब पर दोहरा बोझ। टोल टैक्स नकद देने पर दोगुना टैक्स देना होगा।

क्या आपका FASTAG KYC पूरा हो गया है? अगर नहीं तो बिना देर किए काम निपटा लें। ऐसा न करने पर आपकी जेब पर बोझ बढ़ जाएगा। यदि आप अपने FASTAG की KYC पूरी नहीं करते हैं, तो आपका FASTAG निष्क्रिय कर दिया जाएगा। इतना ही नहीं आपको दोगुना टोल टैक्स भी देना होगा। NHAI ने सभी फास्टैग धारकों को केवाईसी पूरी करने का निर्देश दिया है। NHAI ने वन व्हीकल वन फास्टैग योजना को लागू करने के लिए 31 जनवरी की समय सीमा भी तय की है। अगर ऐसा नहीं किया गया तो फास्टैग को निष्क्रिय कर दिया जाएगा या ब्लैकलिस्ट कर दिया जाएगा।

कई लोग ऐसे होते हैं जो एक कार में एक से ज्यादा फास्टैग का इस्तेमाल करते हैं। NHAI ने इसे गलत बताया और इसे तुरंत बदलने को कहा। प्रत्येक वाहन के लिए एक फास्टैग लेना होगा। NHAI ने कहा कि आरबीआई के दिशानिर्देशों के अनुसार, फास्टैग को केवाईसी के बिना निष्क्रिय कर दिया जाएगा। गौरतलब है कि FASTAG की पहुंच 98 फीसदी तक पहुंच गई है। फिलहाल 8 करोड़ से ज्यादा लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं।

जरूर पढिए

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker!