GENERAL NEWS

HDFC Bank को लेकर आई बड़ी खबर, IndusInd Bank में 9.5% तक हिस्सेदारी हासिल करने की RBI ने दी मंजूरी

HDFC Bank को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने इंडसइंड बैंक लिमिटेड (IndusInd Bank Limited) में भुगतान की गई शेयर पूंजी या वोटिंग अधिकार के 9.5 प्रतिशत तक की “कुल हिस्सेदारी” हासिल करने के लिए एचडीएफसी बैंक लिमिटेड (HDFC Bank Limited) के आवेदन को मंजूरी दे दी है।

HDFC Bank को कब मिली मंजूरी

BSE के साथ इंडसइंड बैंक द्वारा एक नियामक फाइलिंग के अनुसार, एचडीएफसी बैंक (HDFC Bank Limited) द्वारा आरबीआई को सौंपे गए आवेदन के बाद यह मंजूरी दी गई है।

फाइलिंग में कहा गया है कि आरबीआई की मंजूरी बैंकिंग विनियमन अधिनियम, 1949 के प्रासंगिक प्रावधानों, आरबीआई के मास्टर डायरेक्शन और बैंकिंग कंपनियों में शेयरों या वोटिंग अधिकारों के अधिग्रहण और होल्डिंग पर 16 जनवरी, 2023 के दिशानिर्देशों (समय-समय पर संशोधित) के अनुपालन के अधीन है।

विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, 1999 के प्रावधान, भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड द्वारा जारी नियम, और कोई अन्य क़ानून, विनियम और दिशानिर्देश, जो भी लागू हों।

RBI ने क्या शर्त रखा है ?

यदि HDFC Bank, RBI के लेटर की तारीख से एक वर्ष के भीतर बड़ी शेयरधारिता हासिल करने में विफल रहता है, तो अनुमोदन रद्द कर दिया जाएगा।

HDFC Bank को यह सुनिश्चित करना होगा कि इंडसइंड बैंक में कुल हिस्सेदारी किसी भी समय भुगतान की गई शेयर पूंजी या वोटिंग अधिकार के 9.50 प्रतिशत से अधिक न हो।

ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए हमारे व्हाट्सएप चैनल से जुड़े 

Back to top button