उत्तर प्रदेश

उप्र में तथाकथित अमृतकाल ही शर्म से आत्मदाह न कर ले।- अखिलेश

ताहिर अली की दो पिकअप गाड़ी एक युवक ने किराये पर ली थी। कुछ देर बाद उसने किराया देने से इंकार कर दिया। मामला पुलिस तक पहुंचा तो पुलिस ने कार को चौकी पर रोक लिया। अब उनकी कार पुलिस चौकी से गायब है।

उत्तर प्रदेश मे एक दिलदाहलने वाली घटना सामने आया है। पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली।पीड़ित का वाहन पुलिस चौकी से गायब हो गई। आत्महत्या से पहले पीड़ित ने गुमशुदा वाहन गायब होने के मामले की सुनवाई न होने पर उसने यह कदम उठाया। घटना मंगलवार की दोपहर करीब 12 बजे की बताई जा रही है।

जानकारी के अनुसार एसपी कार्यालय के सामने शाहजहांपुर के कांट थाना क्षेत्र के सिहरन गांव निवासी ताहिर अली ने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली। सिपाहियों ने कंबल फेंककर आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक ताहिर अली गंभीर रूप से झुलस चुका था। उन्हें एक सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। ताहिर अली ने आत्महत्या से पहले गुमशुदा कार मामले की सुनवाई न होने पर उसने यह कदम उठाया।

पुलिस चौकी से गायब हो गई ताहिर की गाड़ी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार।ताहिर अली की दो पिकअप गाड़ी एक युवक ने किराये पर ली थी। कुछ देर बाद उसने किराया देने से इंकार कर दिया। मामला पुलिस तक पहुंचा तो पुलिस ने कार को चौकी पर रोक लिया। अब उनकी कार पुलिस चौकी से गायब है।

ताहिर अली अपनी गाड़ी का पता लगाने के लिए चक्कर काट रहे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस इस मामले मेन कोई कार्यवाही नहीं कर रही है। इससे क्षुब्ध होकर उसने आत्मघाती कदम उठा लिया।

उप्र में तथाकथित अमृतकाल ही शर्म से आत्मदाह न कर ले।

ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए हमारे व्हाट्सएप चैनल से जुड़े 

Back to top button